Up next


गूगल के डूडल में मिर्जा ग़ालिब, जानें कौन थे ग़ालिब की gazal

VVC
VVC - 3 Views
0
3 Views
Published on 02 Feb 2018 / In People & Blogs

गूगल ने बुधवार को उर्दू के महान शायर मिर्जा ग़ालिब के 220वीं जयंती पर उनको अपना डूडल समर्पित किया है। मिर्जा ग़ालिब का पूरा नाम मिर्जा असल-उल्लाह बेग खां था। उनका जन्म 27 दिसंबर 1797 को मुगल शासक बहादुर शाह के शासनकाल के दौरान आगरा के एक सैन्य परिवार में हुआ था। उन्होंने फारसी, उर्दू और अरबी भाषा की पढ़ाई की थी।


गूगूल के डूडल में मिर्जा हाथ में पेन और पेपर के साथ दिख रहे हैं और उनके बैकग्राउंड में बनी इमारत मुगलकालीन वास्तुकला के दर्शन करा रही है। गूगल ने अपने ब्लॉग में लिखा है, 'उनके छंद में उदासी सी दिखती है जो उनके उथलपुथल और त्रासदी से भरी जिंदगी से निकल कर आई है- चाहे वो कम उम्र में अनाथ होना हो, या फिर अपने सात नवजात बच्चों को खोना या चाहे भारत में मुगलों के हाथ से निकलती सत्ता से राजनीति में आई उथल-पुथल हो। उन्होंने वित्तीय कठिनाई झेली और उन्हें कभी नियमित सैलरी नहीं मिली।' आप भी इन शेरों को ग़ालिब का समझते हैं?ब्लॉग के मुताबिक, 'इन कठिनाइयों के बावजूद ग़ालिब ने अपनी परिस्थितियों को विवेक, बुद्धिमत्ता, जीवन के प्रति प्रेम से मोड़ दिया। उनकी उर्दू कविता और शायरी को उनके जीवनकाल में सराहना नहीं मिली, लेकिन आज उनकी विरासत को काफी सराहा जाता है, विशेषकर उर्दू गजलों में उनकी श्रेष्ठता को।' छोटी उम्र में ही ग़ालिब से पिता का सहारा छूट गया था जिसके बाद उनके चाचा ने उन्हें पाला, लेकिन उनका साथ भी लंबे वक्त का नहीं रहा। बाद में उनकी परवरिश नाना-नानी ने की। ग़ालिब का विवाह 13 साल की उम्र में उमराव बेगम से हो गया था। शादी के बाद ही वह दिल्ली आए और उनकी पूरी जिंदगी यहीं बीती
Related Tags: - ghazal, ghalib shayari, shayar, urdu, poetry, pakistan, india, ghalib, poem, shayari, recitation, galib, recited, mushaira, sher, ghalib ki shayari, mirza ghalib shayari, mirza galib shayari, galib ki shayari, hindi shayari, urdu shayari, ghalib shayari in hindi, galib shayari in hindi, ghalib sher o shayari, mirza ghalib sher o shayari, mirza ghalib (author), mirza ghalib, urdu poetry, ghalib poetry, lal bagh, international, foundation, mehdi, mahdi, imam, shahi, gohar, ahmed, riaz, ra, ghalib shayari, ghazal, urdu, poetry, shayar, pakistan, india, mushaira, recited, recitation, poem, shayari, sher, galib, mirza galib shayari, mirza ghalib shayari, ghalib ki shayari, galib ki shayari, hindi shayari, urdu shayari, ghalib, galib shayari in hindi, ghalib sher o shayari, mirza ghalib sher o shayari, ghalib shayari in hindi, mirza ghalib (author), urdu poetry, mirza ghalib, ghalib shayari in urdu, gohar, ahmed, riaz, ra, algohar, younus, rahat fateh ghalib, ghalib naseeruddin shah, ghalib serial, ghalib poetry, ghalib jagjit singh

Follow on Twiter https://twitter.com/IdnnewsIdn
Follow on Facebook https://www.facebook.com/idnnews.portal.9
Follow on Google Plus https://plus.google.com/?hl=hi
Follow on Reddit https://www.reddit.com/user/idnnewsportal
Follow on tumblr https://www.tumblr.com/dashboard

Copyright DISCLAIMER under section 107 of the Copyright Act 1976, allowance is made for " FAIR USE " for purposes such as criticism, comment, news reporting, teaching, scholarship and research. Fair use is a use permitted by Copyright Statute that might otherwise be infringing, educational or personal use tips the balance in favor of fair use.
Note-- Pics used in this video belong to their respective owner...I am not owner of those pictures

Please subscribe my channel

Show more
0 Comments sort Sort by

Facebook Comments

Up next